शहरी असंगठित कामगार पोर्टल में 8 लाख से अधिक पथ व्यवसायी पंजीकृत - Sri Narada News

शहरी असंगठित कामगार पोर्टल में 8 लाख से अधिक पथ व्यवसायी पंजीकृत

Share This

भोपाल। शहरी असंगठित कामगार पोर्टल में 8 लाख से अधिक पथ व्यवसाइयों ने पंजीयन करवाया है। इनमें से लगभग एक लाख 14 हजार का सत्यापन हो चुका है और लगभग 67 हजार पथ व्यवसाइयों के आवेदन स्वीकृत किये जा चुके हैं। सत्यापन की प्रक्रिया लगातार जारी है। स्वीकृत प्रकरणों में व्यवसाय के लिये 10 हजार रूपये का लोन दिया जायेगा। लोन का ब्याज सरकार भरेगी। कोविड-19 महामारी के कारण प्रभावित पथ व्यवसाइयों को पुन: रोजगार से जोड़ने तथा उनकी पूरी जानकारी एकत्रित करने के उद्देश्य से शहरी असंगठित कामगार एकीकृत पोर्टल तैयार कर उसमें उनके पंजीयन की व्यवस्था की गयी है।
भोपाल में 88 हजार 848 पंजीयन
पोर्टल में जिला आगर-मालवा में 5328, अलीराजपुर 1236, अनूपपुर 2833, अशोकनगर 5669, बालाघाट 3574, बड़वानी 5010, बैतूल 8122, भिंड 10801, भोपाल 88848, बुरहानपुर 7868, छतरपुर 24562, छिंदवाड़ा 20461, दमोह 18093, दतिया 6819, देवास 26310, धार 13264, डिंडोरी 1900, गुना 13560, ग्वालियर 35319, हरदा 3118, होशंगाबाद 9537, इंदौर 109763, जबलपुर 96131, झाबुआ 3070, कटनी 13489, खंडवा 12210, खरगोन 13071, मंडला 3172, मंदसौर 7119, मुरैना 10679, नरसिंहपुर 12654, नीमच 4071, निवाड़ी 2852, पन्ना 7708, रायसेन 10138, राजगढ़ 8754, रतलाम 12114, रीवा 19311, सागर 39167, सतना 21456, सीहोर 8310, सिवनी 3638, शहड़ोल 6513, शाजापुर 4382, श्योपुर 3276, शिवपुरी 10162, सीधी 3355, सिंगरौली 2196, टीकमगढ़ 6383, उज्जैन 24655, उमरिया 2222 और विदिशा में 8802 पथ व्यवसाइयों ने पंजीयन करवाया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें