एक व्यक्ति ने अपनी काम पिपासा शांत करने के लिए कुत्तिया के साथ किया बुरा काम ग्रामीणों ने रंगे हाथों पकड़ कर धुनाई करते हुए किया पुलिस के हवाले - Sri Narada News

एक व्यक्ति ने अपनी काम पिपासा शांत करने के लिए कुत्तिया के साथ किया बुरा काम ग्रामीणों ने रंगे हाथों पकड़ कर धुनाई करते हुए किया पुलिस के हवाले

Share This



बेगमगंज। निकटवर्ती गांव तुलसीपार में इंसानियत उस वक्त शर्मसार हो गई जब एक 40 वर्षीय व्यक्ति जो अविवाहित है उसने अपनी काम पिपासा शांत करने के लिए गांव की एक पालतू कुत्तिया को अपनी हवस का शिकार बना डाला कुत्तिया की आवाज आने पर कुत्तिया मालिक व ग्रामीण घर के अंदर पहुंचे तो आरोपी को रंगे हाथों कुत्तिया के साथ गलत काम करते हुए पकड़ लिया ग्रामीण अपने आप पर काबू नहीं रख सके और उन्होंने उक्त व्यक्ति की धुनाई करते हुए बेगमगंज लाकर आरोपी को  पुलिस के हवाले कर दिया।

घटना के प्रत्यक्षदर्शी रमेश गौर  आदि ने बताया कि पूर्व में भी एक दो बार गांव के ही हरिचरण पाठक उर्फ गुड्डा महाराज पुत्र प्रेम नारायण पाठक आयु करीब 40 वर्ष को कुत्तिया को घर के अंदर ले जाकर गलत काम करने का प्रयास करते देखा था जिसकी बात गांव वालों को बताई थी आज फिर वह शाम करीब 4:00 बजे कुत्तिया को किसी तरह बुलाकर अपने घर के अंदर ले गया तब कुत्तिया मालिक राजा बाबू को और गांव के लोगों को बात बताई जिन्होंने उसके घर के पास जाकर जब आवाज सुनी तो कुत्तिया के कयीं-कयीं करने की आवाजें आता देख गांव वाले दरवाजा खोलकर अंदर पहुंच गए और गुड्डा महाराज को नग्न अवस्था में कुत्तिया के साथ गलत काम करते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया ग्रामीणों ने आरोपी की मामूली धुनाई की और गुड्डा महाराज को पकड़क तथा कुत्तिया को लेकर थाने पहुंचे जहां पर उसके खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई गई है पुलिस मामले की बारीकी से जांच कर रही है। घटना से गांव में रोष व्याप्त है इस तरह की घिनौनी घटना बे मुंह के जानवर के साथ करने से लोग तरह-तरह की बातें कर रहे हैं। करीब 2 दर्जन लोग रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचे जिन्होंने पुलिस से आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। 

इस संबंध में एसडीओपी सुनील बरकरे का कहना है कि आरोपी के विरुद्ध धारा 377 , 11 (1) पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर कुत्तिया और आरोपी का मेडिकल  कराया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें