अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर संविदा कर्मचारियों ने वर्चुअल बैठक कर शहीद हुए मजदुरों को दी श्रद्धांजलि - Sri Narada News

अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर संविदा कर्मचारियों ने वर्चुअल बैठक कर शहीद हुए मजदुरों को दी श्रद्धांजलि

Share This

भोपाल। 1 मई अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर म.प्र. संवितरण कर्मचारी अधिकारी महासंघ वर्चुअल बैठक हुई जिसमे 1मई को शहीद हुए श्रमिकों को श्रद्धांजलि दी गई । इसके बाद मध्यप्रदेश संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी को पत्र लिखकर प्रदेश के संविदा कर्मचारियों को नियमित किये जाने के शीघ्र आदेश किये जाने की माँग की । महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने ज्ञापन में मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि संविदा कर्मचारी अधिकारी 20 से 25 वर्षों से संविदा पर कार्य कर रहे हैं , वर्तमान में कोविड 19 जैसी महामारी के कारण आफिसों में ड्यूटी करने के कारण हजारों संविदा कर्मचारी अधिकारी करोना जैसे महामारी की चपेट में आ गये हैं , जिसके कारण संविदा कर्मचारी इलाज कराने प्राईवेट अस्पताल जाता है तो उसके पास इलाज कराने के  पैसे नहीं है क्योंकि उसको नियमित कर्मचारियों से आधा वेतन मिलता है , उसके करोना के  इलाज के लिये छुट्टियों का प्रावधान नहीं है यदि वो अस्पताल में इलाज कराता है तो उतने दिन का वेतन कट जाता है , उसके साथ कोई दुर्घटना घट जाती है तो परिवार के सदस्य को अनुकंपा नियुक्त तक का प्रावधान नहीं है ना ही उसके क्रियाक्रम के लिये एक्सग्रेसिया तक का प्रावधान तक नहीं है । सरकारी कर्मचारी को यदि करोना हो जाता है तो उसका तथा उसके परिवार का पूरा खर्च सरकार उठाती है  लेकिन संविदा कर्मचारियों को  ऐसा  किसी भी प्रकार का कोई पैसा नहीं मिलता है ना ही प्रावधान है । जबकि संविदा और नियमित कर्मचारी एक ही आफिस में एक समान कार्य करते हैं तो फिर स्वास्थ्य के मामले में ऐसा भेद भाव क्यों ? इसलिए संविदा महासंघ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से माँग की है कि ऐसी महामारी के समय संविदा कर्मचारियों को भी नियमित कर्मचारियों के समान स्वास्थ्य सुविधाएं दी जायें तथा यदि संविदा कर्मचारी अस्पताल में भर्ती होता है तो उसे कार्यालय से 1 लाख रुपये  तत्काल एडवांस  में दिये जायें। विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से हुई बैठक में संविदा महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर , महामंत्री रमेश सिंह, योगेन्द्र शर्मा, निलेश सिटोके, संतोष श्रीवास्तव , प्रमोद खरे, धनेन्द्र साहू, जुगराज प्रजापति आदि सहित अनेक कर्मचारी नेता शामिल थे ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें